2000 रुपये के नोट की समय सीमा; आरबीआई 2000 मुद्रा विनिमय अंतिम तिथि अपडेट | 96% से अधिक नोट बैंक वापस आये, अभी 12 हजार करोड़ आना बाकी


नई दिल्ली2 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

2000 रुपये के नोट को बैंक में जमा करने या इसे दूसरे नोट से बदलने का कल आखिरी दिन है। इससे पहले आज यानी शुक्रवार को आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने बताया कि 96% से ज्यादा 2000 रुपये के नोट बैंक में वापस आ गए हैं, प्रोफाइल वैल्यू ₹3.43 लाख करोड़ है।

इसमें से 87% नोट बैंक में जमा हो गए हैं। बाकी बचे अन्य सिक्कों का मूल्यांकन किया गया है। उन्होंने कहा कि अभी करीब 12 हजार करोड़ रुपये के 2000 के नोट चलन में हैं, बाकी आना बाकी है।

30 सितंबर को आरबीआई ने जारी किया था नोट अपडेट
इससे पहले नोट अपडेट का आखिरी दिन 30 सितंबर था, लेकिन आरबीआई ने आखिरी दिन इसे एक सप्ताह के लिए बढ़ाया था। RBI ने सार्करोलरीज में कहा, ‘विड्रॉल स्टोर्स का तय समय खत्म होने के बाद, समीक्षा के आधार पर 2000 रुपये के नोट को जमा करने और 7 अक्टूबर 2023 तक स्थिर व्यवस्था को बढ़ाने का निर्णय लिया गया है।’

आरबीआई की ओर से 30 सितंबर को जारी सर्कुलर के मुताबिक 2000 के नोट अपडेट की आखिरी तारीख 7 अक्टूबर 2023 यानि कल तक की है।

आरबीआई की ओर से 30 सितंबर को जारी सर्कुलर के मुताबिक 2000 के नोट अपडेट की आखिरी तारीख 7 अक्टूबर 2023 यानि कल तक की है।

2016 में आया था 2000 का नोट
2000 का नोट नवंबर 2016 में मार्केट में आया था। तब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 500 और 1000 के नोट बंद करने की घोषणा की थी। दूसरी जगह नए पैटर्न में 500 का नया नोट और 2000 का नोट जारी किया गया था। हालांकि आरबीआई ने साल 2018-19 से 2000 करोड़ रुपये का बैकअप बंद कर दिया है। वहीं 2021-22 में 38 करोड़ 2000 के नोट नष्ट हो गए।

नीचे प्रश्न-उत्तर से समझिए, नोट बदलने की सुविधा…

1. किसी दस्तावेज़ के लिए नोट परिवर्तन की आवश्यकता है?
नहीं, बिना किसी दस्तावेज़ के बैंक में ग्राहक आसानी से इन सिक्कों को बदल सकते हैं। नोट नोट में किसी भी प्रकार की परेशानी न हो, इस संबंध में बैंकों के बारे में भी जानकारी दी गई है। सरकार की ओर से जारी शेयरों के अनुसार बैंक में नोट के लिए किसी भी तरह का कोई दस्तावेज नहीं दिया जाएगा।

एक बार में ₹20,000 की सीमा से लेकर ₹2000 के नोट का मतलब अन्य सिक्कों में इज़ाफा करवा सकते हैं। वहीं अगर आपने खाता खोला है तो आप कितने भी 2000 के नोट खाते में जमा कर सकते हैं।

2. क्या कोई भी बैंक में बिना खाता खोले नोट बदल सकता है?
हाँ। यानि नॉन-अकाउंट धारक भी किसी भी बैंक शाखा में एक बार में ₹20,000/- की सीमा तक ₹2000 के नोट बदलवा सकते हैं, दूसरे दिनो में इज़ाफा करवा सकते हैं। आपका खाता होने पर यह सीमा लागू नहीं होगी।

3. सरकार के आदेश का आम लोगों पर क्या असर होगा?
जिसके पास भी 2000 का नोट है उसे बैंक में रिवेल्यूट करना होगा। 2016 में जब 500 और 1000 के नोट बंद हुए तो उसे हटाने के लिए लंबी लाइनें बंद कर दी गईं। इस कारण लोगों को काफी परेशानी उठानी पड़ी। इस बार अब तक प्लाइबाल स्थिति तो नहीं बनी।

4. यह सरकार का कौन सा निर्णय है जो सुधार की भूल है?
2016 में 500 और 1000 के नोट की कमी को पूरा करने के लिए 2000 के नोट को बंद कर दिया गया था। जब पर्याप्त मात्रा में दूसरे डिनोमिनेशन के नोट उपलब्ध हो गए तो 2018-19 में 2000 के सिक्कों की छपाई बंद कर दी गई। यानी सीधे तौर पर ये नहीं कहा जा सकता कि 2000 के दशक के पोर्टफोलियो से बाहर निकलना सरकार की भूल है।

5. किन लोगों के लिए आवेदन हो रहा है?​
यह निर्णय सभी के लिए लागू है। हर व्यक्ति के पास 2000 के नोट हैं, उन्हें 7 अक्टूबर तक बैंक की किसी भी तरह से शेयर करने या दूसरे शेयरों से रिज़र्वेशन होता है।

खबरें और भी हैं…



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *