चुनाव कार्यक्रम 2023; तेलंगाना विधानसभा चुनाव पर सीईसी राजीव कुमार | अगर प्रकाशन एजेंसी कोई एक्शन नहीं लेगी, तो हम अपनी कार्रवाई करेंगे


नई/हैदराबादकुछ ही क्षण पहले

  • कॉपी लिंक
मुख्य चुनाव आयुक्त राजीव कुमार पिछले 3 दिनों से अपनी 17 सदस्यीय टीम के साथ तेलंगाना में थे।  गुरुवार को वे सिन्धीनगर में प्रेस कॉन्फ्रेंस की।  - दैनिक भास्कर

मुख्य चुनाव आयुक्त राजीव कुमार पिछले 3 दिनों से अपनी 17 सदस्यीय टीम के साथ तेलंगाना में थे। गुरुवार को वे सिन्धीनगर में प्रेस कॉन्फ्रेंस की।

मुख्य चुनाव आयुक्त राजीव कुमार ने गुरुवार को हैदराबाद में कहा कि चुनाव आयोग स्वतंत्र, कर्मचारी, रिज़र्व और विशेषाधिकार मुक्त चुनाव के लिए तैयार है। आने वाले चुनाव में मनी पावर हमारे रेडियो पर रहेंगे। इसके लिए प्रकाशक को स्पष्ट निर्देश दिए गए हैं। अगर वे कार्रवाई नहीं करते हैं तो हम अपने चुनाव धन-बल का प्रयोग करने वालों पर कार्रवाई करेंगे।

सीईसी की 17 सदस्यीय टीम के लिए तेलंगाना में निर्वाचित प्रतिनिधियों का नामांकन शहर में है। इस दौरान राजीव कुमार ने राजनीतिक शास्त्रार्थ, राज्य और केंद्र सरकार के अधिकारियों और इतिहासकारों के साथ मिलकर विधानसभा चुनाव को लेकर बैठक की।

ऑफ़लाइन पर भी नज़र रखेगा
चुनाव आयुक्त ने कहा कि पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव के दौरान अकेले तेलंगाना में ही 148 चेकपोस्ट बनाये जायेंगे। इनमें से तीन तेलंगाना-आंध्र प्रदेश सीमा 35 चेकपोस्ट, तेलंगाना-कर्नाटक सीमा 26 चेकपोस्ट, तेलंगाना-महाराष्ट्र सीमा 24 चेकपोस्ट और तेलंगाना-छत्तीसगढ़ सीमा 4 चेकपोस्ट बनेंगे। इस दौरान हर तरह के ऑनलाइन लेन-देन पर भी नजर डाली जाएगी।

इतना ही नहीं, एमसीएमसी पेड न्यूज और सोशल मीडिया पर नाटक के उल्लंघन पर निगरानी निगम। वहीं आचार संहिता के उल्लंघन की रिपोर्ट cVIGIL मोबाइल ऐप पर जाइए, जिस पर 100 मिनट में रिस्पॉन्स दिया जाएगा।

80 साल से अधिक उम्र के लोग और अविश्वासी घर से वोट करेंगे
तेलंगाना में तेलंगाना की कुल संख्या 3.17 करोड़ है। इनमें पुरुष और समान संख्या हैं। 5 राज्यों में पहली बार 80 साल से ज्यादा उम्र के लोग अगर रुकते हैं तो अपने घर से वोट कर सकते हैं। इसी तरह के अनौपचारिक व्यक्ति जो 40% या उससे अधिक विकलांग हैं, वे भी घर से मतदान कर सकते हैं।

चुनाव आयुक्त से जुड़ी ये खबरें भी पढ़ें…

राजस्थान में पहली बार बुजुर्ग-अनैतिक घर से दाल वोट

इस बार चुनाव आयोग राजस्थान में पहली बार वरिष्ठ नागरिक मतदाताओं को घर से वोट देने की सुविधा भी देगा। राजनीति में राजनेताओं के प्रवेश पर रोक के लिए एक नया कदम उठाया गया है। इसके तहत राजनीतिक दार्शनिक पत्र-पत्रिकाओं में साजित्र देना होगा कि क्या उन्होंने आपराधिक विचारधारा वाले व्यक्ति को टिकट दिये थे? पढ़ें पूरी खबर…

छत्तीसगढ़ में दस्तावेज़ की कोई विशेषता नहीं है

छत्तीसगढ़ में होने वाले विधानसभा चुनाव में कर्मचारियों और कर्मचारियों की ड्यूटी नहीं लगेगी। साथ ही नई बहुओं को वोट के लिए नव वधु सम्मान समारोह आयोजित करने की सलाह भी दी गई है। निर्वाचन आयोग के अनुसार छत्तीसगढ़ में 61,683 ऐसी नई दुल्हनें हैं जो इस विधानसभा चुनाव में मतदान करती हैं। पढ़ें पूरी खबर…

खबरें और भी हैं…



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *