घरेलू रक्षा उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए घोषित सैन्य हार्डवेयर की सूची | विदेश से मंगाना बैन होगा; रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने जारी की 5वीं स्वदेशी सूची


  • हिंदी समाचार
  • राष्ट्रीय
  • घरेलू रक्षा उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए घोषित सैन्य हार्डवेयर की सूची

नई दिल्ली20 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
राजनाथ सिंह ने पांचवी स्वदेशी सूची जारी की।  - दैनिक भास्कर

राजनाथ सिंह ने पांचवी स्वदेशी सूची जारी की।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने दिल्ली में भारतीय नेवी के स्वावलंबन 2.0 दीक्षा में पांचवी स्वदेशी सूची जारी की। इस सूची में 98 पदों के नाम हैं। ये विवरण अब देश की घरेलू इंडस्ट्री से ही शुरू हो जाएंगे। विदेश से विज़न मंगाने पर बैन लगेगा।

इनमें सेंसर्स, हथियार, गोला-फैब्रियोड, कॉम्प्लेक्स सिस्टम, इंट्री कॉम्बेट गैजेट्स, मैकेनिक-कंट्रोल्ड एयरबोर्न सामान, शिपबोर्न अनमैंड एरियल सिस्टम और नेक्स्ट जेनरेशन लाइट इलेक्ट्रॉनिक्स आदि शामिल हैं।

इंस्टालिया में डिसप्लेड किए गए स्टैरिअल पार्टियाँ को देखें रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह।

इंस्टालिया में डिसप्लेड किए गए स्टैरिअल पार्टियाँ को देखें रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह।

पुरानी 4 लिस्ट में थे 411 पोस्टर्स के नाम
इससे पहले भी 4 स्वदेशीकरण सूची जारी की गई है। उनमें 411 मूल बातें के नाम थे, जिनमें घरेलू उद्योग से ही खरीदा जाना था। इसके अलावा डिपार्टमेंट ऑफ डिफेंस प्रोडक्शन ने भी 4 लिस्ट जारी की थीं, जिनमें 4500 से ज्यादा प्रमुख बिजनेस के नाम थे।

इन लिस्ट को जारी करने का मकसद डिफेंसिव प्रोडक्शन के क्षेत्र में आत्मनिर्भरता हासिल करना है।

सिद्धांत में 75 एडवांस्ड टेक्नोलॉजी दिखाई दी
भारतीय नेवी के प्रतिष्ठान में अंडरवॉटर स्वार्म डैमेजर्स, ऑटोनॉमस वैपन विजीलेंड बोट स्वार्म और फायर फाइटिंग सिस्टम जैसे 75 एडवांस्ड टेक्नोलॉजी भी दिखाई दी। पिछले साल पीएम नरेंद्र मोदी के भाषण में नेवी ने इन टेक्नोलॉजी को विकसित करने का संकल्प लिया था।

राजनाथ सिंह ने एसबीआई बैंक का क्रेडिट-चिप डेबिट कार्ड जारी किया।  एसबीआई ने इसे खास तौर पर भारतीय नेवी के लिए बनाया है।

राजनाथ सिंह ने एसबीआई बैंक का क्रेडिट-चिप डेबिट कार्ड जारी किया। एसबीआई ने इसे खास तौर पर भारतीय नेवी के लिए बनाया है।

राजनाथ बोले- हर सेक्टर में आत्मनिर्भर बनने पर जोर दिया
राजनाथ सिंह ने कहा- भारत नॉलेज और इनोवेशन के क्षेत्र में हमेशा आत्मनिर्भर बना हुआ है। मोदी सरकार ने हर सेक्टर को आत्मनिर्भर बनने पर जोर दिया। विदेशी आक्रमणकारियों के रहते हुए हम अपने नवोन्वेषी दृष्टिकोण को भूल गये। लोकेल सामान को लोकेल सामान समझा जाने लगा।

हम अब उस आज़ाद से आज़ाद हो रहे हैं। पीएम मोदी ने वोकल फॉर लोकल का शुभारंभ किया। ऐसे लोगों ने स्थानीय मान्यताओं को इस तरह से देखना शुरू कर दिया।

खबरें और भी हैं…



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *