भारत के उत्तरी भाग में कड़ाके की ठंड और घना कोहरा | कोहरे ने संकटपूर्ण स्थिति में दिल्ली में 150 उड़ानें भरीं: 26 ट्रेनें भी देरी से चलीं; पंजाब, हरियाणा, यूपी-एमपी में शीतलहर से और स्वादिष्ट गोदाम

नई दिल्ली1 घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तर प्रदेश में झील का सितम तय है। आज की सुबह भी घने जंगल और शीतलहर के साथ हुई है। 27 जनवरी को इन राज्यों में यही स्थिति बने रहने का मौसम विभाग ने सुझाव दिया है। बिहार, राजस्थान, मध्य प्रदेश, उत्तराखंड में भी कोल्ड डे की संभावना है।

घने कोहरे के कारण दिल्ली में मंगलवार को 150 उड़ानें नष्ट हो गईं। मौसम विभाग के मुताबिक, 26 जनवरी को ऐसी ही स्थिति बनी रहेगी। इसके साथ ही दिल्ली पहुंच वाली 26 ट्रेन भी देरी से चल रही हैं।

मौसम विभाग के मुताबिक, दिल्ली का तापमान 6.1 डिग्री तक रहने का अनुमान है। इसके कारण रविवार को भी उड़ानें विलंबित हो गईं और भूमि हो गई। घना कोहरा फ़्लाइट्स की फ़्लाइट में बड़ी क्रांतिकारी बन रही है।

विमान सेवा देने वाली कंपनी स्पाईजेट ने यात्रियों से कहा है कि वह अपनी-अपनी उड़ानों के बारे में समय-समय पर जानकारी लेते रहें। कोहरे कारण रविवार को भी उड़ानों में देरी रहेगी।

मध्य प्रदेश 27 जनवरी तक कोहरा और कोल्ड डे का अनुमान है। भोपाल में रात का तापमान लगातार 10 डिग्री से नीचे चल रहा है। रात का तापमान 9.4 डिग्री दर्ज किया गया। प्रदेश में दतिया सबसे ठंडा रहा। रात का तापमान 3 डिग्री रहा। अगले दो दिनों में महाकौशल और चंबल छावनी में बारिश की संभावना है।

आगे ऐसा रहेगा हाल
आख़िर:
भारतीय मौसम विभाग और निजी वेडर एजेंसी स्काईमेट के अनुसार, अगले 24 घंटों के दौरान भारत और मध्य भारत के राज्यों में ठंड का असर बरकरार रहेगा। पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तरी राजस्थान, उत्तरी मध्य प्रदेश और उत्तराखंड के कुछ मानक कोल्ड वेव स्रोत। इन राज्यों में कल कोल्ड डे की स्थिति भी बन सकती है।

कोहरा: स्काईमेट के अनुसार, कोहरे की स्थिति उत्तर भारत के राज्यों में बनी रहेगी। इससे दृश्यता पर फर्क पड़ता है। फ़्लाइट और ट्रेन कल भी प्रभावित हो सकते हैं।

बारिश: अगले 24 घंटों में आंध्र प्रदेश, केरल, लक्षद्वीप, तेलंगाना, छत्तीसगढ़, ओडिशा और महाराष्ट्र के विदर्भ में बारिश की संभावना है।

मौसम विभाग की सलाह- ड्राइविंग में सावधानी बरतें

  • दम् – कोहरा होने पर गाड़ी का उपयोग समय या किसी अन्य के रूप में करते समय सावधानी बरतें। धीरे-धीरे गाड़ी चलाएं और फॉग लाइट का इस्तेमाल करें। एयरलाइंस, रेलवे और स्टेट स्टार्टअप के लिए संपर्क बनाए रखें। एयरलाइंस एयरलाइंस ने यात्रियों से कहा है कि वे हवाईअड्डा प्रस्थान से पहले यात्रा की स्थिति की जांच कर लें।
  • स्वास्थ्य – जब तक असंतुलित न हो, तब तक बाहर माउंट से नाव और समागम को समाविष्ट कर लें। मृत्यु, ब्रोंकाइटिस से पीड़ित लोग लंबे समय तक घने कोहरे में रहने से बचे। इससे संसार से जुड़ी परेशानी बढ़ सकती है।

खबरें और भी हैं…

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *