अयोध्या राम मंदिर दान बॉक्सवायरल वीडियो; रामलला प्राण | बालक राम | राम मंदिर में भक्तों ने रचाया करोड़ों का चढ़ावा: दावा-आधे दिन में ही भर गया था दानपात्र, जानिए वायरल वीडियो का सच

8 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

अयोध्या के राम मंदिर में बालक राम यानी रामलला मंदिर हो गए हैं। इस बीच राम मंदिर से जुड़े कई दावे सोशल मीडिया पर जारी किए जा रहे हैं। ऐसा ही दावा राम मंदिर को मिले रहे दान को लेकर है।

  • असल में सोशल मीडिया पर एक वीडियो खूब वायरल हो रहा है। इस वीडियो में देखा जा सकता है कि कुछ लोग दान पात्र से बहुत सारा नोट निकाल रहे हैं। दान पात्रो की गद्दियाँ से पटा हुआ है।
  • वायरल हो रहे इस वीडियो के साथ दावा किया जा रहा है कि अयोध्या स्थित राम मंदिर में जबरदस्त हलचल मची हुई है। एक्स और फ़ेसबुक पर कई वेरी ऑपरेशंस और नॉन वेरी ऑपरेशंस के लोग इस दावे को साझा कर रहे हैं।

वायरल वीडियो से ट्वीट ट्वीट डॉक्टर लाडला नाम के एक्सएक्स डाउनलोड पर मिला। इस ट्वीट में लिखा था- अयोध्या के नवनिर्मित श्री राम मंदिर में पहले दो दिन में 3.17 करोड़ का मंदिर बनाया गया है 🚩 जय श्री राम 🚩 (पुरालेख ट्वीट)

ट्वीट देखें:

राम मंदिर को मिले दान से जुड़े वायरल वीडियो हमें शुभम् हिंदू नाम के एक्सक्लूसिव अकाउंट पर भी देखें। शुभम ने ट्वीट किया- पहले दिन पेटी में दान की गई इतनी राशि कि दूसरे दिन में ही दानपात्र भर गया 🙏🏻🚩 (पुरालेख ट्वीट)

ट्वीट देखें:

वहीं, चौधरी उत्तम चंद के प्रमुखों ने ट्वीट किया- अयोध्या में राम जबरदस्त तरीके से आए हैं, दान पात्र भारते देर नहीं लग रही है, जय श्री राम, जय श्री राम। (पुरालेख ट्वीट)

ट्वीट देखें:

कुछ ऐसा ही दावा अन्य एक्स ग्राहकों ने भी किया है जिनमें आप भी शामिल हैं यहाँ और यहाँ देख सकते हैं।

वहीं, फेसबुक पर भी हमें यह वीडियो इसी दावे के साथ मिला। गति मध्यम नाम के पेज पर 24 जनवरी को फेसबुक पर लिखे गए पोस्ट में लिखा था- राम मंदिर एक दिन में ही दान पात्र फुल। (पोस्ट देखने के लिए क्लिक करें (करें)

फ़्लोरिडा स्पीड मीडिया नाम के फ़ेसबुक पेज पर पोस्ट किए गए लक्ष्य।

फ़्लोरिडा स्पीड मीडिया नाम के फ़ेसबुक पेज पर पोस्ट किए गए लक्ष्य।

ऐसा ही दावा कुछ अन्य फेसबुक उपभोक्ताओं ने किया था। जिसमें आप यहाँ और यहाँ देख सकते हैं।

दावे की जांच के लिए हमने गूगल पर ओपन के जरिए यह पता लगाया कि क्या सच में अयोध्या में स्थित राम मंदिर का ऐसा कोई वीडियो सामने आया है? हालाँकि, हमें ऐसी कोई खबर नहीं मिली जिसमें वायरल वीडियो का ज़िक्र किया गया हो।

वहीं, जब वीडियो के कीफ्रेम्स को गूगल इमेज पर रिवर्स सर्च किया गया तो हमें 7 जनवरी 2024 को यूट्यूब पर एक वीडियो मिला हुआ अपलोड किया गया।

वीडियो देखें:

  • यह वीडियो राजस्थान स्थित सांवरिया सेठ मंदिर का था। जहां दान पात्र में सहयोगियों द्वारा बताए गए राइस पर प्रस्थान किया जा रहा था। इसके अलावा, इजाज़त जय श्री श्याम हमें यह वीडियो मिला जिसे 19 जनवरी 2024 को अपलोड किया गया था। वीडियो सांवरिया सेठ का बताया गया था। वहीं, अयोध्या में भगवान राम की प्राण प्रतिष्ठा 22 जनवरी को हुई थी।

इस्टा पोस्ट देखें:

  • साफ है कि जिस वीडियो में अयोध्या स्थित राम मंदिर का वीडियो शेयर किया जा रहा है वो असल में सांवरिया सेठ का है।

फ़ेस न्यूज़ के हमारे ख़िलाफ़ साथ जुड़ें। किसी भी ऐसी जानकारी पर आपको संदेह हो तो हमें ईमेल करें @fakenewsexpose@dbcorp.in और व्हाट्सएप करें 9201776050

ये भी पढ़ें:

सेठों के सेठ, सांवलिया सेठ: देश का एकमात्र मंदिर जहां भगवान के साथ भक्त करते हैं एग्रीमेंट, मुनाफ़ा का 20% तक सांवलिया जी को चढ़ाते हैं

राजस्थान के चित्तौड़गढ़ में स्थित देश का एकमात्र मंदिर सांवलिया सेठ, जहां भक्त भगवान के साथ बने हैं राजभवन। बा क़ायदा लिखित में अनुबंध होता है। दावा होने पर 20 प्रतिशत तक सूखे भगवान को चढाते हैं। भक्त और भगवान के बीच की पूरी कहानी पढ़ें….

खबरें और भी हैं…

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *